उत्तर प्रदेश पोर्टल पर भूखण्ड देखने की प्रक्रिया

चाहे आप किसी भी राज्य के निवासी हों, यदि आपको भूमि से संबंधित जानकारी की आवश्यकता है, तो आप अब उस राज्य के ऑनलाइन भूमि पोर्टल का उपयोग कर सकते हैं। इस डिजिटलीकरण की बदौलत, जहां पहले भूमि की जानकारी हासिल करने में काफी समय लगता था, अब उसी जानकारी तक पहुंचना अधिक सुविधाजनक और तीव्र हो गया है।

आगे बढ़ते हुए, मैं विस्तार से बताऊंगा कि उत्तर प्रदेश में आप भूखंड / गाटे के यूनिक कोड को कैसे पता कर सकते हैं, भूखंड / गाटे के वादग्रस्त होने की स्थिति को कैसे समझ सकते हैं, और भूखंड / गाटे की विक्रय स्थिति की जानकारी कैसे प्राप्त कर सकते हैं। इस जानकारी के माध्यम से, आप उत्तर प्रदेश के भूलेख पोर्टल का उपयोग करके आवश्यक भूमि संबंधित जानकारी बिना किसी बाहरी सहायता के स्वयं प्राप्त कर पाएंगे।

Bhulekh Uttar Pradesh पोर्टल पर भूखंड की जानकारी

यदि आप उत्तर प्रदेश राज्य में निवास करते हैं और भूखंड से संबंधित विविध जानकारियां प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको उत्तर प्रदेश भूलेख की वेबसाइट https://upbhulekh.gov.in/ पर जाना होगा। वहां पर आपको भूखंड से संबंधित जानकारी तीन विशेष तरीकों से प्राप्त करने का विकल्प मिलेगा। ये तीन तरीके निम्नलिखित हैं:

  • भूखंड/गाटे का यूनिक कोड जानें: इस विकल्प के माध्यम से आप अपने भूखंड या गाटे का यूनिक कोड पता कर सकते हैं।
  • भूखंड/गाटे की वादग्रस्त स्थिति जानें: इस विकल्प का चयन करने पर आप जान सकते हैं कि आपका भूखंड या गाटा किसी विवाद में तो नहीं है।
  • भूखंड/गाटे की विक्रय स्थिति जानें: यह विकल्प आपको भूखंड की बिक्री या लेनदेन संबंधित जानकारी प्रदान करता है।
भूखण्ड की जानकारी

किसी भी विकल्प का चयन करने के बाद, आपको अपने जनपद (जिला), तहसील और ग्राम का चयन करना होगा। इसके बाद, आपको खसरा या गाटा संख्या दर्ज करके ‘खोजें’ विकल्प पर क्लिक करना होगा। आपके सामने आपके नाम से संबंधित भूखंड की जानकारी आ जाएगी, जिसे आप ‘गाटा प्रस्थिति’ पर क्लिक करके देख सकते हैं।

भूखण्ड की परिभाषा

भूखंड एक भूमि का वह हिस्सा होता है जिसे विशिष्ट उद्देश्य या उपयोग के लिए निर्दिष्ट किया गया हो। यह एक विशेष क्षेत्र के रूप में परिभाषित होता है और इसे विशिष्ट बाउंड्री लाइनों द्वारा सीमांकित किया जाता है। भूखंड विभिन्न प्रकार के हो सकते हैं और उनका उपयोग आवासीय, व्यावसायिक, कृषि या अन्य उद्देश्यों के लिए किया जा सकता है।

भूखंड की जानकारी महत्वपूर्ण होती है क्योंकि यह भूमि की मालिकी, उसके उपयोग, आकार और उसकी सीमाओं के बारे में विस्तृत डेटा प्रदान करती है। यह जानकारी भूमि की खरीद, बिक्री, विकास, निर्माण और योजना बनाने में महत्वपूर्ण रोल निभाती है। इसके अलावा, भूखंड की जानकारी संपत्ति कर की गणना, नगरीय नियोजन और विभिन्न कानूनी उद्देश्यों के लिए भी उपयोगी होती है।